Hot Masala Board - Free Indian Sex Stories & Indian Sex Videos. Nude Indian Actresses Pictures, Masala Movies, Indian Masala Videos


Go Back   Hot Masala Board - Free Indian Sex Stories & Indian Sex Videos. Nude Indian Actresses Pictures, Masala Movies, Indian Masala Videos > Hindi Sex Stories - Free Indian Sex Stories in Hindi Fonts !!!

Reply
 
Thread Tools Display Modes
  #1  
Old 05-15-2017, 07:18 PM
kaamdev kaamdev is offline
Senior Member
 
Join Date: Jan 2012
Posts: 218,214
Default गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग (Incest, Adultery)

waiting for next update
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #2  
Old 05-15-2017, 07:18 PM
rocki rocki is offline
Senior Member
 
Join Date: Jan 2012
Posts: 216,844
Default गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग (Incest, Adultery)

गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग
लेखिका: तृष्णा

Gaon Ke Rang Saas, Sasur, Aur Bahu Ke Sang
Author: Trishna


Story Themes: Incest, Adultery, Cuckold, Gangbang, Group Sex, Orgy, ****, Pregnant, Lesbian, Femdom


दोस्तों, कहानी "मेले के रंग सास, बहु और ननद के संग" मे आपने पढ़ा कि किस तरह वीणा अपने मामा, मामी, और भाभी के साथ सोनपुर का मेला देखने गयी और उसने मेले का भरपूर आनंद उठाया. मेला देखने के बाद सब अपने अपने गाँव चले गये.

पेश है मेरी नयी कहानी "गाँव के रंग सास, ससुर और बहु के संग" जो वीणा के घर पहुँचने के बाद शुरु होती है. उम्मीद है आप सबको कहानी बहुत पसंद आयेगी. अगर आपने पिछली कहानी नही पढ़ी है तो उसे पहले पढ़ लेना अच्छा होगा ताकि इस कहानी का आप पूरा आनंद उठा सकें.

हालांकि यह कहानी मेरी अपनी लिखी हुई है, इस कहानी के कुछ से पात्र बिक्स की मूल कहानी से लिये गये हैं. महाशय बिक्स, आपका बहुत धन्यवाद.

कहानी के पात्र

वीणा - उम्र 22 साल. कहानी की पहली वर्णनकर्ता.
मीना - उम्र 23 साल. वीणा के ममेरे भाई बलराम की पत्नी. कहानी की दूसरी वर्णनकर्ता.
गिरिधर - उम्र 45 साल. वीणा के मामाजी और मीना के ससुर.
कौशल्या - उम्र 42 साल. वीणा की मामीजी और मीना की सास.
बलराम - उम्र 24 साल. वीणा के ममेरे भाई और मीना के पति.
किशन - उम्र 18 साल. वीणा का ममेरा भाई और मीना का देवर.
रामु - उम्र 26 साल. गिरिधर के घर का नौकर.
गुलाबी - उम्र 19 साल. रामु की पत्नी.
अमोल - उम्र 22 साल. मीना का छोटा भाई.
विश्वनाथ - उम्र 48 साल. मामाजी के मित्र.
नीतु - उम्र 18 साल. वीणा की छोटी बहन.

आपकी तृष्णा
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #3  
Old 05-15-2017, 07:19 PM
goldfish goldfish is offline
Senior Member
 
Join Date: Dec 2007
Posts: 277,419
Default गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग (Incest, Adultery)

new story here http://www.xossip.com/showthread.php?p=71380822
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #4  
Old 05-15-2017, 07:19 PM
aamjayadakha aamjayadakha is offline
Senior Member
 
Join Date: Feb 2009
Posts: 276,832
Default गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग (Incest, Adultery)

मैने सोचा था सब सो चुके होंगे, पर दरवाज़े के बाहर अपने देवर किशन को देखकर मैं चौंक उठी. वह भी मुझे देखकर सकपका गया.

कमरे के बाहर बैठकखाने की बत्ती जल रही थी और मुझे अपने अध-नंगेपन का ऐहसास होने लगा. मैने सिर्फ़ अपनी पेटीकोट पहनी हुई थी और ऊपर से नंगी थी. अपनी समेटी हुई साड़ी से अपने चूचियों को ढकने की कोशिश करते हुए मैं बोली, "देवरजी, तुम यहाँ?"
किशन हकलाने लगा और बोला, "भ-भाभी...वह म-मै तो बस यूं ही...रसोई की तरफ़ जा...जा रहा था...प-पानी पीने."

मैने उसे ऊपर से नीचे देखा तो पाया उसका औज़ार पजामे के अन्दर ठनका हुआ है. उसने अपने हाथों से अपने लौड़े को पजामे मे दबाने की बेकार कोशिश की.

"सच बोल रहे हो तुम, या फिर कुछ और कर रहे थे मेरे दरवाज़े के पास?" मैने पूछा. मुझे तो पूरा अंदाज़ा हो गया था कि किशन दरवाज़े की फांक से अपने भैया भाभी को जवानी का मज़ा लेते देख रहा था.
"नही, भाभी, म-माँ कसम! मैं सच ब-बोल रहा हूँ." किशन बोला.

बल्ब की धीमी रोशनी मे मेरा गोरा अध-नंगा शरीर किशन सामने था और वह मेरी जवानी को आंखों से पीये जा रहा था. मैं अपने पति के साथ चुदाई ना कर पाने की वजह से बहुत चुदासी हुई पड़ी थी. मेरा मन डोल गया. जी हुआ अपने देवर को उसके कमरे मे ले जाकर अपने सारे जलवे दिखाऊं और फिर उससे चुदाई करवाऊं. पर मैने जल्दबाजी करना उचित नही समझा. दिल पर पत्थर रखकर मैने कहा, "देवरजी, इस बारे मे हम कल बात करेंगे. जाओ, पानी पीकर सो जाओ!"

किशन छुटते ही रसोई की तरफ़ भागा. मैं अपने सास-ससुर के कमरे मे गयी. सोचा सासुमाँ के साथ ही सो जाऊंगी.

दरवाज़ा खट्खटाने पर सासुमाँ ने दरवाज़ा खोला. मुझे देखकर बोली, "क्या हुआ, बहु? और तु अध-नंगी क्यों है?"
मैने कहा, "माँ, आपके बेटे बहुत ज़िद कर रहे थे, तो मैने सोचा आपके कमरे मे सो जाऊं."
सासुमाँ हंसी और बोली, "अच्छा किया तु आई. बलराम को तुने बहुत चढ़ा दी है क्या?"
"हाँ. वह खुद चल पाते तो मुझे पटक कर अपनी दस दिनो की हवस मिटा लेते!"

सासुमाँ बिस्तर पर लेट गई. मेरे पास ब्लाउज़ और ब्रा तो था नही, पर मैने साड़ी पहनी शुरु की तो सासुमाँ बोली, "अरे बहु, तु साड़ी क्यों पहने लगी? आज ऐसे ही सो जा. तुझे तो सोनपुर मे मैने पूरा नंगा देखा है."

वैसे तो सासुमाँ और मैने सोनपुर मे एक दूसरे के सामने चुदाई भी की थी, पर मुझे थोड़ी शरम सी लगने लगी. मैने बत्ती बुझा दी और अपनी साड़ी एक कुर्सी पर रखकर उनके बगल मे एक चादर ओढ़कर लेट गई.

कुछ देर बाद सासुमाँ बोली, "बहु, सोनपुर की बहुत याद आ रही है. हम सबने बहुत मज़े लिये थे वहाँ."
मैं बोली, "माँ, विश्वनाथजी कह रहे थे उन्होने आपके साथ ट्रेन मे भी किया था?"
"हाँ रे!" सासुमाँ एक खुशी की सांस छोड़ती हुई बोली. "मेरे मैके जाते समय ट्रेन लगभग खाली ही थी. हम दोनो एक खाली कूपे मे बैठ थे. पहले तो विश्वनाथजी मेरी जांघों को सहलाने लगे, फिर मेरी चूचियों को दबाने लगे. मैने थोड़ा नखरा किया तो वह बोले, ’भाभीजी, आप कल रात चार-चार का लन्ड ली हैं. बस मुझे ही मौका नही मिला. कहो तो आपके पति को सब बता दूँ?’"
"फिर आपने क्या कहा?" मैने पूछा.
"सच बात तो यह थी कि मैं खुद उनसे चुदने को तैयार बैठी थी." सासुमाँ बोली, "मैने उन्हे अपनी चूचियां दबाने दी. कुछ देर बाद, नीचे से मेरी साड़ी मे हाथ डालकर मेरी चूत मे उंगली करने लगे. मेरी चूत तो बहुत ही गीली हो गयी थी. मुझे बोले, ’चलो भाभीजी, तुम्हे टॉलेट मे ले जाकर चोदते हैं.’ मैं तो घबरा गई."
"फिर?"
"फिर क्या, विश्वनाथजी कोई सुनने वाले लोगों मे हैं क्या?" सासुमाँ बोली, "मुझे जबरन टॉलेट के पास ले गये. उधर कोई नही था. एक टॉलेट खोलकर पहले मुझे अन्दर घुसा दिये, फिर खुद घुस गये. दरवाज़ा बंद करके वह मेरे ब्लाउज़ के हुक खोलने लगे. मैने कहा कि ऐसे ही साड़ी उठाके कर लो, पर वह माने नही."
"आपको पूरा नंगा कर दिया?"
"हाँ रे. मेरी साड़ी, ब्लाउज़, पेटीकोट सब उतार दिया. फिर खुद भी पूरे नंगे हो गये. क्या मज़ा आ रहा था चलती ट्रेन मे उनके नंगे बदन से अपने नंगे बदन को चिपकाने मे! डर भी लग रहा था कि कोई आ न जाये, और डर की वजह से मज़ा दुगना हो गया था." सासुमाँ बोली. "और ओह! कैसे खूंटे की तरह खड़ा था उनका विशाल लन्ड! मैं तो नीचे बैठकर कुछ देर उनका लन्ड जी भर के चूसी. फिर उन्होने मुझे आगे की तरफ़ झुकाया और पीछे से मेरी चूत मे अपना मूसल घुसा कर चोदने लगे."
"बहुत मज़ा आया होगा आपको?"
"हाँ, बहु. कभी मौका मिले तो ट्रेन मे किसी से चुदवाके देखना." सासुमाँ बोली, "ट्रेन तेजी से चल रही थी और डिब्बा जोरों से हिल रहा था. ट्रेन की ताल पर विश्वनाथजी मेरे चूचियों को मसलते हुए मुझे पेले जा रहे थे. मैं तो न जाने कितनी बार झड़ी. आते समय मैं खुद ही विश्वनाथजी को बोली कि मुझे ट्रेन के टॉलेट मे ले जाकर चोदें."

हुम कुछ देर अंधेरे मे चुपचाप लेटे रहे. आंखों मे नींद नही थी. मैं अपनी नंगी चूचियों को दोनो हाथों से मसल रही थी.

अचानक, सासुमाँ ने अपना हाथ मेरे एक चूची पर रखा और बोली, "बहु, अपने हाथों से कभी चूची दबाने का मज़ा आता है?" और फिर मेरे हाथ हटाकर मेरे निप्पल को छेड़ने लगी. मैं गनगना उठी.

"बहु, बहुत चुदवाने का मन कर रहा है क्या?" सासुमाँ ने भारी आवाज़ मे पूछा. वह कभी मेरी एक चूची को कभी दूसरी चूची को मसल रही थी.
"हा, माँ." मैने जवाब दिया.
"मै भी बहुत चुदासी हूँ." वह बोली. वह मेरे बहुत करीब आ गयी थी.

अचानक मैने उनकी सांसों को अपने चेहरे पर पाया, और वह मेरे होठों को पीने लगी.

वीणा, औरत के होठों मे वह बात नही जो एक मर्द के होठों मे होता है, पर इस वक्त मेरी जो हालत थी, मुझे सब कुछ मंज़ूर था. मैं भी पूरा साथ देकर सासुमाँ के होंठ पीने लगी. मैने उनके सीने पर हाथ रखा तो देखा कि उन्होने पहले से ही अपनी ब्लाउज़ और ब्रा उतार दी थी. तुम्हारी मामीजी थोड़ी मोटी हो गयी हैं और उनकी चूचियां काफ़ी बड़ी बड़ी हैं. हम दोनो एक दूसरे की चूचियों को मसल कर मज़ा देने लगे.

फिर सासुमाँ ने अपनी बड़ी बड़ी चूचियों को एक एक करके मेरे मुंह मे ठूंसना शुरु किया. उनके मोटे मोटे निप्पलों को चूस चूसकर मैने उन्हे मज़ा दिया. फिर उन्होने मेरी जवान चूचियों को पिया.

"हाय बहु, क्या गोल, नरम चूचियां है तेरी!" सासुमाँ बोली, "तभी तो इन्हे पी पीकर तेरे ससुर का मन नही भरता!"
"माँ, आपकी चूचियां भी बहुत सुन्दर हैं." मैने कहा. "अपनी साड़ी उतारिये ना!"

सासुमाँ ने उठकर अपनी साड़ी उतार दी, फिर पेटीकोट भी उतारकर पूरी नंगी हो गयी. अंधेरे मे कुछ दिखाई नही दे रहा था. वह फिर मेरे ऊपर लेट गयी और मेरे पेटीकोट के नाड़े को खोल दी.

मैने पेटीकोट को पाँव से अलग कर दिया. अब हम दोनो सास-बहु पूरी तरह नंगे होकर एक दूसरे से लिपटे हुए थे. हमारे होंठ एक दूसरे की गहरी चुम्बन ले रहे थे और हमारे हाथ एक दूसरे की चूचियों को मसले जा रहे थे. सासुमाँ मेरे ऊपर लेटकर अपनी चूत से मेरी चूत को रगड़ रही थी. काफ़ी मज़ा आ रहा था और हम दोनो एक दो बार ऐसे ही झड़ गये.

फिर सासुमाँ उठी और मेरी चूत की तरफ़ घूम गई. अपने दोनो पैर मेरे दोनो तरफ़ रखकर उन्होने अपनी मोटी बुर मेरे मुंह पर रख दी और बोली, "बहु, ज़रा चाट दे मेरी चूत को. मैं भी तेरी चूत चाट देती हूँ." फिर झुक कर मेरी गरम, गीली चूत को चाटने लगी. किसी औरत के साथ मैने कभी 69 नही किया था, पर मुझे बहुत मज़ा आया.

मेरी जीभ जैसे सासुमाँ की बुर मे गयी वह कराह उठी. "आह!! ऊम्म!! बहु, बहुत अच्छा चाट रही है. पहले भी चाटी है क्या किसी की चूत?"
"नही माँ." मैने कहा.
"तो सीख ले. काफ़ी मज़ा आता है औरतों के साथ जवानी का खेल खेलने मे भी." सासुमाँ बोली, "मैं तो बचपन से अपनी छोटी बहन से साथ कर रही हूँ. मुझे जवान लड़कियाँ अच्छी लगती हैं चूसने चाटने के लिये. गुलाबी जल्दी से लाईन पर आ जाये तो मैं उसकी चूचियां और चूत चूसकर खाऊंगी. हाय बहु, तेरी चूत कितनी स्वादिष्ट है! आह!! और अच्छे से चाट, बहु!"
"हाय माँ, मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा है!" मैने कहा, "उम्म!!"

कुछ देर बाद सासुमाँ बोली, "बहु, पूरा मज़ा नही आ रहा. जा रसोई मे देख, लंबे बैंगन होंगे. दो मझले आकर के बैंगन ले आ."



पढ़ना न भूलें ननद-भाभी सीरीज़ का भाग 1: मेले के रंग सास, बहु, और ननद के संग
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #5  
Old 05-15-2017, 07:20 PM
totapuri totapuri is offline
Senior Member
 
Join Date: Jan 2012
Posts: 215,806
Default गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग (Incest, Adultery)

so hot hat update me ek alag tarah k maja h jari rakho bhai
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #6  
Old 05-15-2017, 07:20 PM
lamboo lamboo is offline
Senior Member
 
Join Date: Jan 2012
Posts: 218,176
Default गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग (Incest, Adultery)

गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग - 3
लेखिका: तृष्णा


अगले दिन मीना भाभी की एक और चिट्ठी आयी. रोज़ की तरह मैं चिट्ठी और एक मोटे से बैंगन को लेकर अपने कमरे मे चली गयी. आजकल नीतु को शक होने लगा था कि अखिर मीना भाभी मुझे रोज़ चिट्ठी क्यों भेजती है. इसलिये मुझे सारी चिट्ठीयां छुपाकर रखनी पड़ती थी. अगर उसने पढ़ ली तो शायद उसका दिमाग ही खराब जायेगा!

खैर, अपने एकमात्र साथी, महाशय बैंगन को लेकर मैं भाभी की चिट्ठी पढ़ने लगी.

************************************************** ********************

मेरी प्यारी ननद रानी,

तुम्हारा ख़त मिला. औरत-औरत के संभोग मे बहुत रस होता है. तुम होती तो मैं ज़रूर तुम्हारे साथ समलैंगिक संभोग करती. पर एक सुझाव देती हूँ - ठीक लगे तो आज़माना. तुम्हारी छोटी बहन नीतु अब काफ़ी बड़ी हो गयी है. उस उम्र के किशोरी लड़कियों को मर्द और औरत दोनो बहुत चाव से भोगते हैं. देखो अगर तुम उसे पटा सको. कम से कम तुम्हे जवानी का मज़ा लेने के लिये एक साथी तो मिल जयेगा!

मुझे पता है कि तुम मेरी कहानी का बेसब्री से इंतज़ार कर रही हो. यहाँ रोज़ इतना कुछ होता है, सोचती हूँ तुम्हे रोज़ एक ख़त लिखूं. आज के ख़त मे मैं तुम्हे अपने तीसरे दिन के कारनामों के बारे मे बताती हूँ.

हमारा पूरा दिन घर के काम मे गुज़र गया. तुम्हारे बलराम भैया का पाँव अब ठीक हो रहा है, पर डाक्टर ने उन्हे बिस्तर पर लेटे रहने की हिदायत दी है. खाना पीना उन्हे सब बिस्तर पर ही दिया जाता है. बाथरूम जाने के अलावा वह बिस्तर से नही उठते हैं और कभी अपने कमरे के बाहर नही आते हैं.

दोपहर के खाने के बाद तुम्हारी मामीजी बोली, "बहु, तु अभी जाकर किशन को पटाने की कोशिश कर. वह अपने कमरे मे होगा."
मैने खुश होकर कहा, "ठीक है माँ! अभी जाती हूँ!"
"और हाँ, दरवाज़ा पूरा बंद नही करना. हम बाहर से देखेंगे. तेरे ससुरजी को देखने का बहुत मन है."
"जी, माँ." मैने जवाब दिया.

तुम्हारे मामाजी बोले, "जैसे बस मुझे ही मन है! तुम्हे जैसे बहु को चुदते देखकर मज़ा नही आयेगा?"
"मैने कब कहा मुझे मज़ा नही आयेगा?" सासुमाँ बोली, "मै भी देखूंगी अपने लाडले बेटे को अपनी भाभी की चूत मारते हुए."
"और यह सब देखते हुए तुम अपनी भी चूत मराओगी." ससुरजी बोले.
"हाय, यह क्या कह रहे हो तुम?" सासुमाँ बोली.
"कौशल्या, जब बहु और किशन अन्दर चुदाई कर रहे होंगे, मैं तुम्हे पीछे से कुतिया बना के चोदुंगा. बहुत मज़ा आयेगा." ससुरजी बोले.
"पागल हो गये हो तुम?" सासुमाँ बोली, "घर पर इतने लोग हैं! किसी ने देख लिया तो?"

ससुरजी बोले, "मैं गुलाबी को कोई काम देकर हाज़िपुर बाज़ार भेजता हूँ. उसे आने मे दो घंटे तो लगेंगे. बलराम तो खाने के बाद सो जायेगा. वैसे भी वह अपने कमरे से बाहर नही निकलता है. और घर मे है ही कौन? देखना खुले आम नंगे होकर चुदाने मे बहुत मज़ा आयेगा तुम्हे."
सासुमाँ बोली, "ठीक है पर मैं सारे कपड़े नही उतारूंगी. मेरी साड़ी उठाकर तुम पीछे से चोद लेना."
ससुरजी हारकर बोले, "ठीक है, भाग्यवान! जैसा तुम ठीक समझो."

गुलाबी के बाज़ार जाने के बाद तुम्हारे मामा, मामी, और मैं किशन के कमरे के पास गये. उसका दरवाज़ा बंद था, पर दरवाज़े के फांको से साफ़ दिख रहा था कि वह फिर कोई अश्लील कहानियों की किताब पड़ रहा है. मैने दरवाज़ा खटकाया तो उसने किताब छुपा दी और आकर दरवाज़ा खोला. सासुमाँ और ससुरजी बाहर रुक गये और मैं किशन के कमरे के अन्दर आ गयी. मैने दरवाज़ा ठेल कर बंद कर दिया पर कुंडी नही लगाई ताकि बाहर से अन्दर का दृश्य बिना असुविधा के देखा जा सके.

मुझे देखकर किशन की आंखें चमक उठी और पजामे मे उसके लौड़ा ताव खाने लगा. मैं जाकर उसके बिस्तर पर बैठ गयी और उसके तकिये के नीचे से छुपाई हुई किताब निकाली.

"देवरजी, फिर तुम गंदी किताबें पढ़ रहे हो?" मैने पन्नों को उलट-पुलटकर पूछा. इस किताब के बीच मे कुछ तसवीरें थी जिसमे नंगे आदमी-औरत चुदाई कर रहे थे. "अब जब तुमने अपनी भाभी के जलवे देख लिये हैं, तुम्हे यह सब देखने की क्या ज़रूरत है?"
"भाभी, वह तो ऐसे ही..." किशन बोला.
"अच्छा बताओ, मैं देखने मे अच्छी हूँ या यह विलायती छिनाल?" मैने एक चुदाई की तस्वीर दिखाकर कहा.
"भाभी, आप बहुत सुन्दर हैं! आप जैसी कोई नही है!" किशन बोला.

सुनकर मैं मुस्कुरा दी, और पिछले दिन की तरह मैने अपना आंचल सीने से गिरा दिया था. फिर मैने अपने ब्लाउज़ के हुक खोल दिये और ब्लाउज़ उतार दी. और फिर ब्रा भी उतारकर रख दी.

किशन मेरी चूचियों को आंखों से ही पीने लगा. पजामे मे उसका लौड़ा बिलकुल तना हुआ था. अपने गोलाइयों को अपने हाथों से मसलते हुए मैने कहा, "देवरजी, मेरी चूचियां इस विलायती चुदैल से अच्छी हैं?"
"हाँ...हाँ भाभी." किशन थूक गटक कर बोला, "आपके दूध बहुत सुन्दर है. कल हाथ लगाकर मुझे बहुत अच्छा लगा था."
"यह सब किताबें पढ़नी बंद कर दोगे तो अपनी भाभी का एक एक अंग जितना जी चाहे देख सकोगे." मैने कहा.
"भाभी, मैं यह सब किताबें और नही पढ़ुंगा." किशन बोला और उसने अपने दोनो हाथ मेरे दो चूचियों पर रख दिये.

मैं मज़े से सिहर उठी, पर उसके हाथ हटाकर मैने कहा, "देवरजी, याद है न कल क्या हुआ था? जोश जोश मे अपना पानी अपने पजामे मे ही गिरा दोगे, तो मेरी प्यास कैसे बुझाओगे?"
"भाभी, आज पानी नही निकलेगा." किशन बोला और फिर मेरे चूचियों पर हाथ रखने लगा.
"रुको, देवरजी." मैने उसके हाथ हटाकर कहा, "पहले, तुम्हारे जोश का कुछ इलाज किया जाये, फिर जितना चाहे मेरी चूचियों को मसल लेना. चलो, अपना पजामा उतारो."

किशन शरमाकर मेरे सामने खड़ा रहा, तो मैने मुस्कुराकर कहा, "देवरजी, मर्द होकर औरत से शरमा रहे हो? मेरी चूचियां तो देख ली, अब मुझे अपना लौड़ा दिखाओ."

मैने उसके पजामे का नाड़ा खींचकर खोल दिया और उसका पजामा ज़मीन पर गिर गया. उसका लन्ड उसके चड्डी को जैसे फाड़कर बाहर आ रहा था. मैने उसके चड्डी को खींचकर नीचे उतार दी तो उसका खड़ा लन्ड उछलकर हिलने लगा. किशन ने अपना पजामा और चड्डी अपने पाँव से अलग कर दिये. उसने पजामे के ऊपर सिर्फ़ एक बनियान पहना था. मैने उसके बनियान को सीने के ऊपर चढ़ा दिया. फिर उसके कमर को पकड़कर उसे अपने करीब खींचा. फिर उसके खड़े लन्ड को पकड़कर मैने अपने मुंह मे ले लिया.

किशन अपनी आंखें मींचे खड़ा रहा. उसका शरीर कांप रहा था. मुझे लगा वह अपना पानी छोड़ देगा, पर ऐसा नही हुआ.

मैने धीरे धीरे उसके किशोर लन्ड को चूसना शुरु किया. एक अलग ही महक और स्वाद था उसके लन्ड मे. मैं उसके लन्ड को पेलड़ तक अपने मुंह मे ले रही थी, फिर निकाल कर उसके सुपाड़े को जीभ से सहला रही थी, और कभी लन्ड को मुंह से निकाल कर चाट रही थी. अपने दूसरे हाथ की उंगलियों से पेलड़ मे उसके टट्टों को सहला रही थी.

बीच बीच मे मैं कनखियों से दरवाज़े की तरफ़ भी देख रही थी. मुझे पता था कि मेरे ससुरजी और सासुमाँ मेरे कुकर्मों को देख रहे है और शायद बाहर खड़े होकर चुदाई कर रहे हैं. उन्हे दिखाने मे मुझे और ज़्यादा मज़ा आ रहा था.

"देवरजी," मैने किशन का लन्ड मुंह से निकालकर कहा, "अपने लौड़े के बालों को साफ़ रखा करो. औरतों को चूसने मे ज़्यादा मज़ा आता है."

किशन आंखें बंद करके अपने आप पर काबू रखने की कोशिश कर रहा था.

मैने कुछ देर और उसके लन्ड को चूसा और कहा, "देवरजी, अगर सम्भाला नही जा रहा है तो अपना पानी निकाल दो. मुझे भी ज़रा अपना गला तर करना है."

मेरा कहना था कि किशन ने दोनो हाथों से मेरा सर पकड़ लिया और मेरे मुंह मे अपना लन्ड पेलने लगा. उसके लौड़े का सुपाड़ा जा जाकर मेरे गले से टकराने लगा. एक ही मिनट पेलकर, वह झड़ने लगा. मेरे सर को कस के दबाकर, अपना लौड़ा मेरे मुंह मे पूरा ठूंसकर, वह अपना पेलड़ खाली करने लगा.

पता नही कितना वीर्य था उसके पेलड़ मे, पर मुझे लगा वह रुकने का नाम ही नही लेगा. मेरा मुंह उसके वीर्य से पूरा भर गया और मेरे होठों से निकलकर मेरी नंगी चूचियों पर गिरने लगा.

मेरी सांस रुकने लगी तो मैने उसे धक्का देकर उसका लन्ड अपने मुंह से निकाल दिया. उसके लन्ड के निकलते ही ढेर सारा वीर्य मेरे मुंह से निकलकर मेरे चूचियों पर आ गिरा. बाकी का वीर्य निगलकर मैं हंसने लगी. "देवरजी, कितनी मलाई सम्भाल कर रखे थे अपनी भाभी के लिये? इतना तो मुझसे पिया ही नही गया."

झड़कर किशन को जैसे आराम मिल गया था. पर उसका लौड़ा अभी भी तना हुआ था.



पढ़ना न भूलें ननद-भाभी सीरीज़ का भाग 1: मेले के रंग सास, बहु, और ननद के संग
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #7  
Old 05-15-2017, 07:20 PM
kamina_pati kamina_pati is offline
Senior Member
 
Join Date: Jan 2012
Posts: 217,336
Default गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग (Incest, Adultery)

गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग - 1
लेखिका: तृष्णा


प्रिय पाठकों, जैसा कि आप जानते हैं, मेरा नाम वीणा है. मैं गाँव मेहसाना, ज़िला रतनपुर की रहने वाली हूं. मेरी उम्र 22 साल है, फ़िगर 34/27/35, और रंग बहुत गोरा है. मेरी पिछली कहानी मे मैने सोनपुर के मेले मे मेरे मामा, मामी और उनकी बहु मीना के साथ अपने अनुभव के बारे मे लिखा था. आपने पढ़ा किस तरह मेले मे मेरी और मीना भाभी का गैंग-रेप हुआ. बाद मे मामाजी के दोस्त विश्वनाथजी के घर मे बलात्कारियों ने हम दोनो के साथ मेरी मामी की भी चुदाई की. और आपने यह भी पड़ा किस तरह मामाजी ने मुझे और अपनी बहु को भी चोदा.

कहानी के अंत मे मामा, मामी, और भाभी ने योजना बनायी कि किस तरह वे घर जाकर अपनी अवैध हवस का खेल जारी रखेंगे. मामी और भाभी अपने गाँव खानपुर के लिये हाज़िपुर स्टेशन पर उतर गये. मामाजी मुझे घर छोड़ने के लिये मेरे साथ आये.

अब आगे की कहानी...


मामाजी और मै शाम तक एक तांगे मे बैठकर गाँव मेहसाना पहुंचे. मामाजी के आवाज़ लगाते ही मेरे पिताजी, मेरी माँ, और मेरी छोटी बहन नीतु घर के बाहर आये. मामाजी ने अपने जीजा (मेरे पिताजी) और अपनी दीदी (मेरी माँ) के पाँव छुये.

"गिरिधर, कोई परेशानी तो नही हुई सोनपुर के मेले मे?" पिताजी ने मामाजी से पूछा.
"नही, जीजाजी." मामाजी मुझे आंख मारकर बोले, "परेशानी कैसी? बहुत मज़ा लिया वीणा बिटिया ने!"

सुनते ही नीतु बिफर पड़ी, "पिताजी! देखिये वीणा दीदी ने कितना मज़ा किया मेले मे! आप लोगों ने मुझे जाने ही नही दिया!"
पिताजी नीतु को बोले, "अरे तू कैसे जाती, बेटी? इतना बुखार था तुझे उस दिन!"
मामाजी बोले, "नीतु बिटिया, अगले साल जब सोनपुर मे मेला लगेगा हम तुझे ज़रूर ले जायेंगे!"

यूं ही बातें करते हुए हम अन्दर आ गये. रात के खाने तक हम सब सिर्फ़ मेले के बारे मे ही बातें करते रहे. मामाजी और मुझे बहुत कुछ बना-बना कर बोलना पड़ा क्योंकि हम लोगों ने मेला तो कम देखा था और बाकी सब कुकर्म ही ज़्यादा किये थे.

रात को खाने के बाद हम सोने चले गये. मामाजी को मेरे कमरे मे सोने को दिया गया. मैं उस रात नीतु के कमरे मे सोई.

नीतु काफ़ी रात तक मुझसे मेले के बारे मे पूछती रही फिर थक कर सो गयी.

उसके सोते ही मैं बिस्तर से उठी, धीरे से दरवाज़ा खोलकर बाहर आयी और अपने कमरे की तरफ़ गयी जहाँ मामाजी सोये हुए थे.

मैने दरवाज़ा खट्खटाया तो मामाजी ने खोला. "अरे वीणा बिटिया, तू यहाँ इतनी रात को?" उन्होने पूछा.

कमरे मे काफ़ी अंधेरा था. अटैचड बाथरूम की बत्ती जल रही थी जिससे थोड़ी रोशनी आ रही थी.

मैने अपने पीछे दरवाज़ा बंद किया और खाट पर जा बैठी.

"मामाजी, मुझे नींद नही आ रही है!" एक कामुक सी अंगड़ाई लेकर मैने कहा.
"तो मेरे कमरे मे क्यों आयी है?" आवाज़ नीची करके मामाजी ने पूछा.
"चुदवाने के लिये, और क्या?" मैने कहा, "आप कल चले जायेंगे. फिर न जाने मेरी किस्मत मे कब कोई लौड़ा होगा. इसलिये आज रात जी भर के आपसे चुदवाऊंगी."
"हश!! धीरे बोल, पागल लड़की!" मामाजी बोले, "यह विश्वनाथ का कोठा नही, तेरे माँ-बाप का घर है. दीदी और जीजाजी ने सुन लिया तो मुझे गोली मार देंगे!"
"मै कुछ नही जानती!" मैने हठ कर के कहा, "मुझे आपका लौड़ा चाहिये!"

मामाजी हंसे और बोले, "लौड़ा तो तु ऐसे मांग रही है जैसे कोई लॉलीपॉप हो!"

मामाजी मेरे सामने खड़े थे. मैने टटोलकर लुंगी की गांठ को खोल दी तो लुंगी ज़मीन पर गिर गयी. मैने मामाजी का काला लन्ड अपने हाथ से पकड़ा. उनका मोटा लन्ड पूरा खड़ा नही था पर ताव खा रहा था.

मैने कहा, "मामाजी, आपका लन्ड लॉलीपॉप से कुछ कम नही है. चूस के बहुत स्वाद आता है." बोलकर मैने उनका लन्ड अपने मुंह मे ले लिया और सुपाड़े पर जीभ चलाने लगी.

मामाजी को मज़ा आने लगा. वह दबी आवाज़ मे बोले, "आह! चूस बिटिया, अच्छे से चूस!"

मैं मन लगाकर मामाजी के लन्ड को चूसने लगी और उनके पेलड़ को उंगलियों से सहलाने लगी. जल्दी ही उनका लन्ड फूलकर कड़क हो गया. मामाजी मेरे सर को पकड़कर मेरे मुंह मे अपना लन्ड पेलने लगे.

कुछ देर बाद मामाजी ने मेरे मुंह से अपना लन्ड निकाल लिया और बोले, "चल लेट जा."

मैने खुश होकर अपनी साड़ी उतारनी चाही, तो मामाजी बोले, "कपड़े उतारने का समय नही है. बस लेट कर अपनी टांगें खोल. मैं जल्दी से तुझे चोद देता हूं."
"नंगे हुए बिना मुझे मज़ा नही आयेगा, मामाजी!" मैने आपत्ति जतायी.
"लड़की, अपने बाप के घर मे अपने मामा से चुदवा रही है यही कम है क्या?" मामाजी बोले, "इससे पहले कि किसी को भनक पड़ जाये, अपनी चूत मरा ले और निकल यहाँ से. मेरे घर जब आयेगी तब इत्मिनान से चोदूंगा तुझे."

मै अपनी साड़ी और पेटीकोट कमर तक उठाकर बिस्तर पर लेट गयी, और अपनी दोनो टांगें फैलाकर अपनी चूत मामाजी के आगे कर दी. मेरी चूत इतनी गरम हो गयी थी के उससे पानी चू रही थी.



पढ़ना न भूलें ननद-भाभी सीरीज़ का भाग 1: मेले के रंग सास, बहु, और ननद के संग
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #8  
Old 05-15-2017, 07:20 PM
kaamdev kaamdev is offline
Senior Member
 
Join Date: Jan 2012
Posts: 218,214
Default गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग (Incest, Adultery)

Waah
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #9  
Old 05-15-2017, 07:21 PM
desiman7 desiman7 is offline
Senior Member
 
Join Date: Jan 2012
Posts: 216,460
Default गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग (Incest, Adultery)

[sign=cyan]Hot[/sign]
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
  #10  
Old 05-15-2017, 07:21 PM
kaamdev kaamdev is offline
Senior Member
 
Join Date: Jan 2012
Posts: 218,214
Default गाँव के रंग सास, ससुर, और बहु के संग (Incest, Adultery)

waiting for next updates

Join Date: 3rd October 2009
Posts: 49
Rep Power: 19 Points: 271+25= 296
Reply With Quote
Sponsored Links
CLICK HERE TO DOWNLOAD INDIAN MASALA VIDEOS n MASALA CLIPS
Sponsored Links - Indian Masala Movies
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
UKBL ~ 10 Second Banner Rotator

"Uncensored Indian Masala Movies" - The hottest Indian Sex Movies and Mallu Masala clips

Check out beautiful Indian actress in sexy and even TOPLESS poses

Indian XXX Movies!

Widest range of Indian Adult Movies of shy, authentic Desi women.....FULLY NUDE DESI MASALA VIDEOS!!! Click here to visit now!!!

 

UKBL ~ 10 Second Banner Rotator
Sponsored Links
Reply

Thread Tools
Display Modes

Posting Rules
You may not post new threads
You may not post replies
You may not post attachments
You may not edit your posts

BB code is On
Smilies are On
[IMG] code is On
HTML code is Off

Forum Jump


All times are GMT -4. The time now is 11:46 AM.


Powered by vBulletin® Version 3.8.3
Copyright ©2000 - 2017, Jelsoft Enterprises Ltd.

Masala Clips

Nude Indian Actress Masala Clips

Hot Masala Videos

Indian Hardcore xxx Adult Videos

Indian Masala Videos

Uncensored Mallu & Bollywood Sex

Indian Masala Sex Porn

Indian Sex Movies, Desi xxx Sex Videos

Disclaimer: HotMasalaBoard.com DOES NOT claim any responsibility to links to any pictures or videos posted by its members. HotMasalaBoard has a strict policy regarding posting copyrighted videos. If you believe that a member has posted a copyrighted picture / video, please contact Hotman super moderator. Members are also advised not to post any clandestinely shot material.